UDYOG AADHAR की पूरी जानकारी

Udyog Aadhar को शुरू करने के पीछे विचार था की लम्बी प्रक्रिया को छोटा और सरल जाये, ताकि छोटे उद्योग या माध्यम उद्योग चलने वाले व्यवसाय के मालिकों को अपने व्यवसाय को Micro Small Medium Enterprise (MSME) के तहत उद्योगों का उद्योग आधार पंजीकृत (Udyog Aadhar Registration) करा के सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

UDYOG AADHAR

उद्योग आधार के शुरुआत होने से पहले, इसको करने के लिए प्रक्रिया बहुत ही लम्बी थी. इसके लिए व्यवसाय के मालिकों को काफी कागजी कारवाई करनी पड़ती थी.

अब जब Udyog Aadhar की शुरुआत हुई है, तब से चीजें बदल गयी हैं और कुछ हद तक, मध्यम, छोटे और सूक्ष्म उद्योग के लिए सुधार हुआ है.

UDYOG AADHAR की पूरी जानकारी

यदि आप एक मध्यम, छोटे और सूक्ष्म उद्योग के मालिक है और आपने अभी तक अपना MSME Registration नहीं किया है तो आपको पता हो न चाहिए की UAM (Udyog Aadhar Memorandum) के द्वारा अपने Micro Small Medium Enterprise (MSME) का रजिस्ट्रेशन करने पर, आप कई सरकारी लाभों का फायदा उठा सकते हैं.

Udyog Aadhar क्या है?

कई लोग होंगे जो नए उद्योग चलाने वाले व्यवसाई है जिन्हें उद्योग आधार क्या है इसके बारे में नहीं पता होगा. यदि आप भी उद्योग आधार योजना की जानकारी चाहते हैं तो इस पोस्ट में हम आपको उद्योग आधार की पूरी जानकारी देंगे.

Udyog Aadhar एक सरकारी रजिस्ट्रेशन प्रोसेस है, जो सरकार द्वारा एक मान्यता प्रमाण पत्र और यूनिक नंबर दिया जाता है ताकि छोटे या मध्यम व्यवसायों को प्रमाणित किया जा सके.

इस सुविधा को शुरू करने के पीछे का मुख्य उद्देश्य भारत में मध्यम, छोटे स्तर के व्यवसायों या उद्योगों को अधिकतम लाभ प्रदान करने के लिए सरकार को एक तरीका प्रदान करना था. जो अपने आधार कार्ड नंबर के द्वारा MSME को जोड़ा जा सके.

इसे आधार उद्योग लोन योजना के नाम से भी जाना जाता है, इस सुविधा को आप ऑनलाइन भी आसानी से कर सकते हैं. इसकी मदद से आप अपने छोटे या मध्यम आकार के उद्योग को ऑनलाइन चुकियों में Udyog Aadhar Registration करके अपना Registration Acknowledgement प्राप्त कर सकते हैं.

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन – Udyog Aadhar Registration

udyog aadhar के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया काफी आसान है, और फॉर्म भरने की प्रक्रिया बहुत सरल है.

आज की प्रणाली व्यवसाइयों को बहुत कम टेंशन देने वाली है और या EMI/II प्रोसेस की तुलना में काफी कम जानकारी मांगती है.

अब प्रक्रिया सरल और कुशल हैं. यहाँ उद्योग आधार प्राप्त करने के लिए MSME के तहत रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को स्टेप बाय स्टेप समझाया गया है.

स्टेप 1. पहले आप अधिकारिक उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन (udyog aadhar registration) के वेबसाइट पर जाएँ इसके लिए यहाँ क्लिक करें

स्टेप 2. अब आपके सामने नया पेज खुलेगा जीसके बायें तरफ आपको अपना आधार नंबर और उधमी का नाम डालने का बॉक्स होगा. पहले आप अपना आधार नंबर डालें और दुसरे में अपने आधार कार्ड में जो नाम दर्ज है उसे डालें. अब आप Validate & Generate OTP के बटन पर क्लिक करें.

Udyog Aadhar

स्टेप 3. आपके आधार से जुड़े हुए मोबाइल नंबर पर आपको एक OTP प्राप्त होगा. उस OTP नंबर को अगले नए पेज में Enter One Time Password OTP Code लिखे कुए बॉक्स में डाल दें.

UDYOG AADHAR

स्टेप 4. अब आपको एक फॉर्म भरने के लिए आएगा जिसे आप ध्यान से भरें. आपको आवेदक के रूप में उस नाम को भरना होगा जिसके साथ लोग या ग्राहक आपके उद्योग को पहचानेंगे. यदि आपको एक से अधिक इकाई या उधम हैं, तो आपको एक अलग उद्योग दायर करना होगा.

UDYOG AADHAR

आप इसे Enterprise 1 और Enterprise 2 के रूप में भर सकते हैं, आपको ड्रॉप डाउन लिस्ट में संगठन का प्रकार भी चुनना होगा.

स्टेप 5. ऊपर बताए गए सभी विवरणों को भरने के बाद, आपको जो अगली जानकारी प्रदान करनी होगी, वह कंपनी / उद्यम / संस्था का पूरा डाक पता होगा, जिसमें जिले, पिन कोड, राज्य, ईमेल पते और मोबाइल नंबर के बारे में जानकारी शामिल होगी.

स्टेप 6. आपको उस तारीख का चयन करना होगा जिस पर आपके उद्यम ने प्रदान किए गए तारीख से अपना संचालन शुरू किया था. आपको UAM पंजीकरण संख्या सहित SSI, EM1 और EM2 के माध्यम से पिछले पंजीकरण के बारे में जानकारी प्रदान करनी होगी.

स्टेप 7. आपको संबंधित शाखा के IFSC कोड के साथ बैंक खाता संख्या दर्ज करनी होगी, जहां आपके उद्यम का खाता सक्रिय है. यदि आपके पास संबंधित शाखा का IFSC कोड नहीं है, तो आप बैंक की वेबसाइट पर इसे प्राप्त कर सकते हैं.

स्टेप 8. आपको “सेवाओं” या “निर्माण” से अपने उद्यम की मुख्य गतिविधि का उल्लेख करना होगा. हम जानते हैं कि यदि आपका उद्यम दोनों उपलब्ध विकल्पों का संयोजन करता है, तो चीजें थोड़ी भ्रमित हो सकती हैं.

यदि ऐसा है, तो आपको उस श्रेणी को चुनने पर विचार करना चाहिए जो आपके उद्यम में परिचालन के अधिकांश हिस्से का गठन करती है. बेहतर समझ स्थापित करने के लिए एक उदाहरण लेते हैं!

यदि कुल का 80% सेवा संचालन और 20% निर्माण हैं, तो, आपको “सेवा” के साथ जाना होगा.

स्टेप 9. उपरोक्त सभी विवरणों को भरने के बाद, आखिरी चीजों में से एक जो आपको करना होगा, वह आपके उद्यम में कार्यरत श्रमिकों की कुल संख्या और कुल राशि (लाखों में) में प्रवेश करने वाली होगी, जिसे आपने अपने उद्यम में निवेश किया है.

स्टेप 10. इस प्रक्रिया के अंतिम चरण में, आप उपलब्ध ड्रॉप-डाउन सूची से जिला उद्योग केंद्र का चयन करेंगे. उसके बाद, आपको प्रक्रिया को समाप्त करने के लिए घोषणा को स्वीकार करना होगा और अपना आवेदन जमा करना होगा.

आखिर में, आपको एक पावती नंबर मिलेगा.

उद्योग आधार के फायदे Udyog Aadhar Benefits

  • अपने व्यवसाय को पंजीकृत करने और उद्योग आधार प्राप्त करने के बाद कई फायदे हैं.
  • उद्योग आधार प्राप्त करने के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह प्रक्रिया काफी सरल है और इसके अलावा, किसी को उद्योग आधार प्राप्त करने के लिए कागजी कार्रवाई नहीं करनी होगी।
  • लघु उधमों की सुरक्षा और विकास और व्यवसाय में बढ़ोतरी करने के उद्देश्य से Ministry of MSME द्वारा प्रदान की जाने वाली कई योजनाओं से प्राप्त लाभ नीचे लिए गए हैं
  • एक्साइज की छूट (Excise Exemption)
  • प्रत्यक्ष कर कानूनों के तहत छूट (The exemption under the direct tax laws)
  • पेटेंट और ट्रेडमार्क दाखिल करने के लिए शुल्क में कमी (Reduction in fee for filing patents and trademarks)
  • ऋण गारंटी योजना (Credit guarantee scheme)
  • MSME के ​​साथ पंजीकृत होने के बाद, आपके व्यवसाय को सरकारी योजना लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र मिलेगा, जिसमें बिना गारंटी के ऋण, ऋण पर कम-ब्याज दर और आसान ऋण शामिल होंगे.
  • विदेशी व्यापार एक्सपो में भाग लेने के लिए आपके पास सरकार से वित्तीय सहायता होगी.
  • आपको अन्य प्रकार की सब्सिडी का भी आनंद मिलेगा जो आपकी कंपनी के राजस्व को बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे.
  • बिजली के बिलों में बड़ी रियायत
  • जब आपके उद्यम सरकारी निविदाओं के लिए आवेदन करेंगे तो आपको छूट मिलेगी.


Comments

2 responses to “UDYOG AADHAR की पूरी जानकारी”

  1. Rajesh kumar thakur Avatar
    Rajesh kumar thakur

    12

    1. Rajesh kumar thakur Avatar
      Rajesh kumar thakur

      12